What is Nifty in Hindi | What is Nifty And Sensex in Hindi

दोस्तों, आज के इस लेख में हम बात करेंगे की What Is Nifty In Hindi, What Is Nifty And Sensex In Hindi के बारे में जानेंगे. आपने काफी निवेशकों और विडियो में Nifty और Sensex के बारे में सुना होगा. लेकिन आपको उनकी बाते समझ नही आती होगी. यदि आप Nifty और Sensex के बारे में अच्छे से जानना चाहते है तो सुरु से अखिर तक इस लेख को पढ़े.

निफ्टी क्या है (What Is Nifty In Hindi)

अब निफ्टी को समझे, निफ्टी की फुल फॉर्म “National Stock Exchange Fifty” है, जो नेशनल और फिफ्टी 2 शब्दों के मिलकर बना है. इसे NIFTY 50 भी बोलते है लेकिन ज्यादातर लोग NIFTY बोलते है. यह National Stock Exchange of India का सबसे जरुरी Benchmark होता है. इसे NIFTY 50 इसलिए भी बोलते है क्योकि इसमें आप सिर्फ भारत की 50 प्रमुख लिस्टेड कंपनियों के shares को ही देख सकते है.

आप उन्ही 50 कंपनियो को देख सकेंगे जो की National Stock Exchange में लिस्टेड है. ये उन सभी 50 कंपनियो के शेयर की कीमत की उतार-चढ़ाव का ध्यान रखता है और साथ ही में उनके बारे में सूचना देता है. NIFTY 50 भारत का काफी पुराना और महत्वपूर्ण इंडेक्स है. इसके बाद में दुसरे नम्बर पर BSE सेंसेक्स है.

निफ्टी कैसे काम करता है?

शेयर बाजार में निफ्टी को कंपनी और बाजार दोनों की चाल के बारे में दिखाना होता है. निफ्टी में हमें यह पता चलता है की वह 50 लिस्टेड कंपनियां किस तरह व्यवहार कर रही है. यदि कंपनी अच्छा प्रदर्शन कर रही है तो उन कंपनियो के शेयर्स की कीमत बढ़ जाती है.

जब किसी लिस्टेड कंपनी के शेयर की कीमत बढती है तो इस तरह से निफ्टी में भी तेजी आती है. यदि इसी तरह से उन लिस्टेड कंपनियों को मुनाफा कम हो रहा है या बिलकुल नहीं हो रहा है तो इसका सीधा असर उन कंपनी के शेयर की कीमत पर पड़ता है

और इस प्रकार कंपनी के शेयर गिरावट आने लगती है. इसका मतलब ये निकलता है की यदि कंपनी के शेयर की कीमत में गिरावट आती है तो NIFTY में भी गिरावट देखने को मिलती है.

NIFTY और अर्थव्यवस्था (What Is Nifty In Hindi)

अब हम निफ्टी अर्थव्यवस्था दोनों के बीच का सम्बन्ध के बारे में समझेंगे. शेयर मार्केट में निफ्टी का सम्बन्ध देश की अर्थव्यवस्था से है. जब निफ्टी ऊपर जाती है तो उसका संकेत होता है की कंपनी के शेयर की कीमत बढ़ रही है और अच्छा मुनाफा हो रहा है. इस प्रकार कंपनी अच्छा पैसा कमा रही हो तो ऐसे में देश की अर्थव्यवस्था भी बनी रहती है.

क्योकि जितना अधिक पैसा भारत की कंपनी कमाई करेगी उतना ही टेक्स आदि भी देगी. कंपनी के दोवारा दिया गया टेक्स से ही देश की अर्थव्यवस्था अधिक मजबूत होती है. निफ्टी से हमें कंपनी के शेयर की कीमत के घटते और बढ़ते भाव के बारे में जानकारी मिलती है इसके आलावा बाजार की चाल को भी बताता है. बजार की चाल को समझने के लिए NIFTY को समझना चाहिए.

NIFTY किस प्रकार बनता है?

निफ्टी National Stock Exchange में लिस्टेड 50 कंपनियो के शेयर का हिसाब रखता है. निफ्टी में केवल 50 कंपनिया लिस्टेड होती है लेकिन NSE में लगभग 164 कंपनियां लिस्टेड होती है. इन्ही 164 कंपनियों में से 50 बड़ी कंपनियों को निफ्टी 50 में रखा जाता है जिससे मार्किट की चाल को समझने में आसानी हो सके.

जो कंपनियां निफ्टी 50 में लिस्टेड होती है उनके शेयर्स को अधिक बेचा अथवा ख़रीदा जाता है. ये सभी 50 कंपनियां अलग-अलग सेक्टर से चुनी होती है. ये सभी अपने फिल्ड की टॉप कंपनियां होती है. लगभग 60% Market Capitalization पूरे मार्किट में फैला हुआ होता है.

निफ्टी निचे क्यों जाती है?

जब भी इन 50 कंपनियो के शेयर अधिक ख़रीदे जाने लगते है तो NIFTY ऊपर जाने लगती है और जब शेयर की मांग कम होने लगती है तो ऐसे में NIFTY निचे गिरने लगती है. इन 50 कंपनियो को निफ्टी में रखने के लिए index committee का काम होता है क्योकि इस committee में अधिक बड़े-बड़े अर्थशास्त्री जुड़े है.

NIFTY और सेंसेक्स में क्या अंतर है (What Is Nifty And Sensex In Hindi)

अब हम निफ्टी और सेंसेक्स के बारे में चर्चा करेंगे. इन दोनों का एक ही काम होता है सेंसेक्स भी स्टॉक इंडेक्स है लेकिन दोनों में थोड़ा अंतर है. इन दोनों के बीच के अंतर को समझेंगे. निफ्टी नेशनल स्टॉक एक्सचेंज से जुड़ा है और सेंसेक्स बॉंबे स्टॉक एक्सचेंज से जुड़ा हुआ है.

BSE की फुल फॉर्म Bombay Stock Exchange है  सेंसेक्स में केवल 30 कंपनियां ही लिस्टेड होती है वही दूसरी तरफ NIFTY में 50 कंपनीयां लिस्टेड होती है. ज्यादातर निवेशक निफ्टी पर निवेश करते है क्योकि ये काफी भरोसेमंद है. ये दोनों एक ही काम के है दोनों ही सूचकांक है. इन दोनों का काम शेयर मार्किट की स्थति को बताना है.

NIFTY के फायदे

अब निफ्टी के फायदों को भी जान ले. इसके कुछ प्रमुख फायदे है जिनके बारे में जानना आवश्यक है. इन्हें पढ़े – What Is Nifty In Hindi, What Is Nifty And Sensex In Hindi

  1. NSE के प्रदर्शन के बारे में एक ही नजर में जान सकते है.
  2. मार्किट में चल रही तेजी और मंदी दोनों के बारे में आसानी से जानकारी मिल जाती है.
  3. यदि NIFTY में गिरावट है तो मंदी आने वाली है और NIFTY ऊपर जा रही है यानि अब मार्किट में तेजी आने वाली है. निफ्टी के माध्यम से मार्किट में चाल का अनुमान लगा सकते है.
  4. आप NIFTY के माध्यम से अपने देश की अर्थव्यवस्था के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकेंगे. यदि निफ्टी ऊपर जा रहा है तो समझो की देश की अर्थव्यवस्था भी ठीक चल रही है.

लोगों के द्वारा पूछे गय सवाल – 

इन्हें भी पढ़े – 

Sharing Is Caring:

Leave a comment