Top 20 नैनीताल में घुमने की जगह 2022| Nainital Me Ghumne Ki Jagah

Nainital Me Ghumne Ki Jagahनैनीताल उतराखंड के सबसे खूबसूरत पर्यटक स्थलों में से एक है . नैनीताल शहर कई सदियों पुराना माना जाता है . नैनी झील भारत के 51 शक्तिपीठ में से एक है . नैनीझील का इतिहास लोकप्रिय देवी की सती की मृत्यु की कहानी पर आधारित है . जब देवी सती की मृत्यु हुई तब शौक से बाहर आते हुए शिव सती के शव को लेकर ब्रहमांड में लेकर घूमते रहे .

सुदर्शन चक्र का इस्तेमाल करके सती के शव को 52 हिस्सों में काट दिए. जो पृथ्वी के अनेक जगहों पर गिर के पवित्र बन गए . इसके बाद से देवी शक्ति के पूजा नैना देवी के रूप में की जाती है . जिसे स्थानीय लोग नैनी देवी माता मंदिर के रूप में जानते है, तो आइये जानते है

नैनी झील – नैनीताल में घुमने की जगह – Nainital Me Ghumne Ki Jagah 

सात अलग अलग पर्वत की चोटियों से घिरी हुई ये झील कुमाऊ क्षेत्र की सबसे फेमस झील है . खूबसूरत नजारों के लिए मशहूर ये नैनीताल दर्शनीय स्थल लोगो की बीच पिकनिक का बहुत प्रचलित स्थान है . जहा बैठकर आप ढलते सूरज का नज़ारा और सूरज की लालिमा को देख पाएंगे . शाम के समय में आप ऐसे खूबसूरत रूप से वातावरण का गमन कर सकते है .

यहा आपको पानी के अन्दर सफ़ेद बतख भी देखने को मिल जायेंगे . आप झील के पास ही बना नैना देवी मंदिर के दर्शन करके मन को शांति दे सकते है . ये जगह सच में बहुत अनोखा है .

Snow View Point -Nainital Me Ghumne Ki Jagah

दूध जैसी बर्फ से ढाका हुआ हिमालय के मन को लुभा देने वाला दृश्य आपके आँखों के सामने ला देगा . इस नैनीताल के स्थल को देखकर आपको तस्वीरे खीचने का मौका मिलेगा . आप यहा हिमालय के साथ अपनी तस्वीरों को ले सकते है . समुन्द्र तल की उचाई से 2270 मीटर ये बिंदु यात्रियों के बीच बेहद लोकप्रिय स्थान है .

आपको यहा ऐसा महसूस होगा की जैसे ही आप ऊपर हाथ उठाएंगे, ऐसा लगेगा की बादल आपके मुठी में आ गए हो. आपके सामने होंगे ऊचे बर्फीले पहाड़ और बादलो से ढकी हुई सफ़ेद चादर ये देखकर आपको नज़ारा देखकर गदगद हो जायेगा .

केबल कार – Nainital Me Ghumne Ki Jagah

अगर आप कुछ ही मिनटों में नैनताल का सुन्दर नज़ारा देखना चाहते है तो आप एरिअल – रोपवे आपके लिए बहुत अच्छा होगा . नैनीताल में आने वाले लोगो के लिए केवल कार हमेशा से ही एक आकर्षण केंद्र रहा है . हर रोज सैकड़ो में इस केबल कार के द्वारा नैनीताल और नैनीझील का सुन्दर नज़ारा देख सकते है.

आप तीन मिनट से भी कम समय में इस केवल कार के द्वारा नैनीताल की फेमस जगह Snow View Point पर पहुच जाते है . ये केवल कार मल्लीताल से शुरू होकर Snow View Point तक जाता है .

पंगोट -Nainital Me Ghumne Ki Jagah

पंगोट नैनीताल से 15 किलोमीटर की दूरी पर है . ये एक बहुत ही सुन्दर गाव है . यदि आप सस्ते में नैनीताल देखना चाहते है तो आप इस गाव में रुक सकते है . यहा रुकना आपको नैनीताल से बहुत सस्ता पड़ेगा . इस गाव में आपको बहुत ही शांत वातावरण देखने को मिलेगा . यहा के लोग मिल-झूल के रहने बाले शुभाव के है .

पंगोट में आप ट्रेकिंग कर सकते है, केम्पींग कर सकते है तथा अलग-अलग प्रकार के चिडियों के प्रजातियों को देख सकते है . यहा पर रात को रुककर आसमान में चमकते तारो को देखना और अपने पार्टनर के साथ ठंडी रात में जलती हुई लकडिया के पास बैठकर अरजीत शिंह के गाने सुनने का मज़ा ही कुछ और है .

मॉल रोड -Nainital Me Ghumne Ki Jagah

मॉल रोड एक बहुत ही फेमस रोड का नाम है. आपको बता दे की इसका हाल मेंनाम को बदलकर गोविन्द बल्लभ पंत मार्ग कर दिया गया है. यह आपको बाजारों के अलावा कई बैंक ट्रेवल एजेन्सिया मॉल रोड पर देखने को मिलेगी.

ये सड़क मल्लीताल को महाली से जोडती है. ये सड़क नैनी झील को दूसरी और स्तिथ है. यहा आपको हर वक्त चहल पहल देखने को मिलती है . खरीदारी के लिए बहुत ही अच्छा स्थान है. यहा आपको सुन्दर कपडे बहुत ही आसानी से देखने को मिल जायेंगे .

टिफीन टॉप – Nainital Me Ghumne Ki Jagah

नैनीताल के पर्यटक स्थलों में बहुत ही रोमाचक स्थलों में से एक है . ये आपको पुरे नैनीताल का दृश्य देखने के लिए सबसे अच्छी जगह है . चारो तरफ रेड ओक व देवदार से घीरा हुआ ये स्थल आपको खुशनुमा व शांति के वातावरण से रूबरू करवाएगा . अगर आपको नेचर से प्रेम है तो आपको यहाँ भरपूर तस्सली मिलेगी. मन को शांति और आनंद लाने वाली, ये एक पिकनिक स्थल है और यहाँ आपको कुछ रोमांचक कार्य को भी करने का मौका मिलेगा .

नैना पीक – Nainital Me Ghumne Ki Jagah

ये नैनीताल के सबसे उची छोटी है नैना पिक, 2615 मीटर की ऊंचाई के साथ बेहद ही खूबसूरत नज़ारा देखने को मिलता है . साल भर ढके रहने वाले बर्फ की चादरे हरयाली युक्त पेड़ो से घिरी हुई है . फोटो किचने वाले लोग यहा आकर अपने शौक को पूरा करते है . यहा आप अलग-अलग स्थानों पर फोटोशूट करा सकते है. हैकरो और टैकरो के बीच ये स्थान बहुत प्रसिद्ध है. यहा आप अपने दोस्तों और अपने साथी के साथ एक अच्छी छुट्टिया मनाने का आनद ले सकते है .सूर्योदय और सूर्यास्त का नज़ारा देखने के लिए अक्सर यहा लोग आया करते है .

भीमताल झील – Nainital Me Ghumne Ki Jagah

भीमताल झील भारत के सबसे फेमस झीलों में से एक है जो उत्तर भारत के उत्तरखंड में भीमताल शहर में स्तिथ है. कुमाऊ क्षेत्र जिसे भारत के झील जिले से रूप में जाना जाता है . भीमताल झील सबसे बड़ी झील है और शहर को पीने के पानी की पूर्ति करती है . झील को पर्यटकों के लिए खोल दिया गया है और झील के आस-पास कई तरफ की गतिविधिया देखने को मिलती है.

झील अच्छी तरह से साफ़ सुथरा दिखाई देता है. यहा आने वाले लोग बहुत ही सुखद अनुभव प्रदान करता है . इस झील में 12 टैंक है जो अलग प्रकार के मछलियों के घर है . घने जंगलो और साफ़ नील आसमान से जगमगाते पानी का नज़ारा मनमोहक है अगर आप Nainital Me Ghumne Ki Jagah खोज रहे है तो इस जगह पर अवश्य जाए .

कांची धाम – Nainital Me Ghumne Ki Jagah

नैनीताल के अल्मोड़ा सड़क पर बना एक छोटा सा आश्रम और हनुमान का  मंदिर है . कांची धाम नीम करौली बाबा आश्रम के नाम से भी जाना जाता है . श्री निम्म करौली बाबा महाराज के समपर्ण में बनाया गया आश्रम है . जो एक हिन्दू गुरु थे और साथ ही हनुमान के भक्त भी थे . वे पाने जीवन में कई चमत्कार करने के लिए जाने जाते है .

नीम करौली बाबा आश्रम आदर्श छवि और एकांत मौन के रूप में कार्य करता है . क्युकी ये तलहटी में बसा हुआ है और हरियाली से घिरा हुआ है . मंदिर के हर साल 15 जून को एक मेले को आयोजित किया जाता है और यहाँ के स्थानीय लोग यहा शामिल होते है .

नैनीताल चिड़ियाघर 

मैं आपको सबसे पुराने उत्तराखंड के नैनीताल चिड़ियाघर के बारे में बताऊंगा. उत्तराखंड और उत्तरप्रदेश यह दोनों सन 2000 में अलग होकर दो प्रदेशो में बट गय थे. यह 2100 मीटर की ऊचाई पर स्थित है जिसको हम उचाईं का चिड़ियाघर भी कहते है.

इसका निर्माण 1984 में शेर का डंडा पर्वत किया गया था और लोगो को घूमने के लिए इसको 1 जून 1995 में खोला गया था. इसे 11 एकड़ में बनाया गया है जिसमे दुर्लभ जानवर व पक्षी का निवास है. लेकिन इस जगह पर बंगाल टाइगर, जापानी लंगूर, भेड़िया, हिमालयन काला भालूतिब्बती, हिरण, तेंदुआ, तीतर और मैदानी गिद्ध आदि विभिन्न प्रकार के पशु-पक्षी रहते है. 

इसमें प्रवेश होने का समय सुबह के 10 बजे से शाम के 4:30 बजे बंद हो जाता है ये सिर्फ सरकारी छुट्टी पर ही बंद होता है. इसमें घूमने का कोई शुल्क नहीं है. यह पर पहुचने के लिए नैनीताल चिड़ियाघर की तल्लीताल बस स्टैंड तक पहुचकर वहा से 2 km की दूरी पर चिड़ियाघर है जिसके लिए आप पैदल और सवारी से जा सकते है.

राजभवन

अब हम राजभवन के बारे में बात करते है जिसका निर्माण 1897 से 1900 के बीच ब्रिटिश सरकार में अंग्रेजो ने किया था. गर्मियों के समय में गवर्नर व मुख्य अतिथि निवास करते थे. जिसके कारण राजभवन को हम गवर्नर हाउस के नाम से भी जानते है.

इसके डिजाईन की बात करे तो राजभवन को विक्टोरियन स्टाइल में तैयार किया गया है. इसमें 103 कमरे है जो उच्च वास्तुकला को प्रदर्शित करते है. इतना ही नहीं बल्कि राजभवन में अनेक प्रकार के फूल, बगीचा, स्विमिंग पूल, गोल्फ मैदान, बलूत पेड़ आदि देखने को मिलेंगे.

इसमें प्रवेश होने का समय सुबह के 8 बजे से शाम के 5 बजे तक खुला रहता है  जो सिर्फ रविवार व सरकारी छुट्टी को बंद रहता है. इसमें प्रवेश शुल्क 50 रुपय टिकट प्रतेक व्यक्ति है.

राजभवन कैसे पहुँचे?

यदि आप राजभवन या गवर्नर हाउस जाना चाहते है तो उसके लिए आप मॉल रोड से टेम्पू, सवारी से जा सकते हैं. और तल्लीताल बस स्टैंड से 3 km की दूरी पर राज भवन हैं आप चाहे तो शुगामता से भी राजभवन पहुँच सकते हैं.

लोगों से पूछे जाने वाले सवाल – 

नैनीताल में सबसे खूबसूरत जगह कौन सी है, नैनीताल में कौन से महीने में बर्फ गिरती है, नैनीताल में नैनी झील की गहराई कितनी है, Nainital Me Ghumne Wale Place, Nainital Mein Ghumne Ki Jagah, Nainital M Ghumne Ki Jagah, Nainital Me Kaha Kaha Ghume

इन्हें भी पढ़े –

Dehradun में घूमने के लिए Top 20 जगह

उदयपुर में सबसे अच्छी जगह कौन सी है

मनाली में घूमने की जगह

उज्जैन में घूमने की जगह

दिल्ली में घुमने के लिए जगह कौन सी है

Leave a comment