पाइथन क्या है | What is Python Language in Hindi

What is python language in hindi- कंप्यूटर और मोबाइल पर जितने भी चलने बाले सॉफ्टवेयर होते है, वो किसी न किसी प्रोग्रामिंग भाषा के दुआर बनाये गे होते है. आज के समय में आपको बहुत से “Programming Language”देखने को मिल जाएँगे, जैसे- C++, Java आदि.

यह सभी Computer Language होती है, जो मानव दोआरा लिखे और समझे जाते है. हर लैंग्वेज के अलग-अलग फीचर होते है, जो इन्हें एक दुसरे से अलग बनाते है,. जैसे-जैसे टेक्निकल दुनिया में बदलाव हो रहे है, वैसे-वैसे इन Programming Language में भी नय नय बदलाव हो रहे है.

What is Python Language in Hindi? Python का स्कोप क्या है?

का क्या Scop है. यह दुनिया के टॉप 10 लैंग्वेज में तीसरे नंबर पर माना जाता है, मतलब की यह Programming Language बहुत हाई लेवल पर है, तो आप इससे ही अंदाजा लगा सकते है की यह पाइथन कितनी जरूरतमंद और कितनी शक्तिशाली और हमारे लिए कितनी उपयोगी है.

जिसका इस्तमाल करना बेहद आसान होता है, साथ में यह बहुत अच्छी लैंग्वेज मानी जाती है. इसकी मदद से बहुत तेजी से एप्लीकेशन को बनाया जा सकता है, इसका उपयोग हम एप्लीकेशन, वेबसाइट, मशीन लर्निंग, नेचुरल लैंग्वेज आदि.

यह भाषा Java Script, C++, Java इत्यादि से बहुत सरल और एक दो कदम आगे ही है. जिसका sintex uniquse है, जो इस भाषा को यूजरस के पढने योग्य बनाता है.

अलग अलग डेवलपर पाइथन लैंग्वेज के कोड को पढ़कर ट्रांसलेट भी कर सकते है, जो दूसरी भाषा के मुकावले बहुत आसान होता है. शक्तिशाली भाषा होने के वजह से Python का इस्तमाल बहुत सी बड़ी कंपनियो दुआर किया  जा रहा है, जैसे- Google, Youtube, Quora, Instagram और Pintrest आदि.                                                   

पाइथन की सुरुआत कब हुई- Python Language History in Hindi

What is Python Language in Hindi- आब जानेंगे की पाइथन की सुरुआत कब हुई. पाइथन की स्रुआत 1980 ईo में हुई, और करीब 10 साल बाद 1991 ईo पाइथन को लांच किया गाया.

पाइथन के Version कब निकाले गए थे-

  1. जनवरी 1994 में पाइथन का पहला Version Python 1.0 निकाला गया था.
  2. इसका दुसरा Version Python 2.0 अक्टूबर 2000 में जरी किया गया.
  3. और इसका तीसरा Version Python 3.0 एक लम्बी अबधि के बाद दिसंबर 2008 में जारी किया गया.
  4. और  Python का न्यू Version Python 3.6. 1 मार्च 2017 में रिलीस किया गया था.

इस भाषा को इस तरह से बनाया गया है, की इसमें इसमे लिखे कोड आसानी से पढ़े और समझे जा सकते है. इसकी यह खासियत है की हमें इससे सिखने के लिए कोई भी पैसा नाही देना पड़ता है, और ना ही किसी लाइसेंस की भी जरुरत नहीं पढती है.

पाइथन का नाम python क्यों रखा गया ?

What is Python Language in Hindi- पाइथन का नाम पाइथन क्यों रखा गया, क्योकि यह एक साप की पिर्जतीका नाम है. द्रासाल पाइथन की उत्पत्ति एक Comedy Show के नाम से हुई थी.

1970 में बीबीसी कॉमेडी सेरिसे दोवारा Monty Python’s FLYING CIRCUS नाम एक स्क्रिप्ट प्रकाशित हुई थी, तभी इससे प्रभावित होकर Quido Rossum ने भाषा का नामे  python रख दिया.

पाइथन की विशेताएँ – Features of Python in Hindi


1. Simple – Python भाषा बहुत ही सरल है, इसका उपयोग करना आसान है इसलिए इसे कंप्यूटर की भाषाओ में सबसे आसान  भाषा माना जाता है. पाइथन एक ऐसी भाषा है जिसे पढना और समझना आसान है.

2. Interpreted Language – जिस प्रकार हमे बाकी प्रोग्राम्मिंग लैंग्वेज जैसे की – C, C++ और Java को चलाने से पहले Compile करना ज़रूरी होता है, पाइथन उस प्रकार Compile नहीं किया जाता है.

Python Code समय पर चलाने पर ही Interpreter दुआरा Process किया जाता है. पाइथन एक ही समय में प्रोग्राम के कोड को Line by Line Execute करता है.

3. Platform Independent – Python Open Source होने के कारण कई प्लेटफार्म पर उपलब्ध है जैसे Linux , Windows और Macos. Python का कोड आसानी से किसी भी Platform पर चलता है .

 इसलिए अगर आप पाइथन का कोड किसी भी (Operating System) पर लिखते हैं, आप उस प्रोग्राम को दुसरे ऑपरेटिंग सिस्टम में भी बिना किसी समस्या के Run कर सकते हैं . अलग अलग Platform के लिए अलग अलग कोड लिखने की जरुरत नहीं होती है.

4. Extensible Language – पाइथन पूरी तरह से एक्सटेंसिबल लैंग्वेज है मतलब की इसके Source Code मे अन्य प्रोग्रामिंग लैंग्वेज  के कोड डाले जा सकते है.

अगर  आप चाहते है की किसी भी प्रोग्राम का एक भाग रफ़्तार  से Execute हो तो आप उस भाग को दूसरी  भाषा C मे लिख सकते है .पाइथन को दूसरी  भाषा C और C ++ के साथ ज्यादा आसानी से Integrate किया जा सकता है.

5. Large Standard Library – पाइथन में बहुत ही बढ़ा Standard Library मौजूद है . यह लाइब्रेरी और भी तरह के कार्यों के लिए उपयोग करते है.

यह हमें Rapid Application Development के लिए Module और Packages का समृद्ध Set प्रदान करता है, जिसके कारण हमे सभी Task के लिए अलग से कोड (Code) लिखना नहीं पड़ता है .इसमें Graphical User Interface बनाने के लिए Module, Web Frameworks बनाने के लिए  Module है.

इन्हें भी पढ़े –

  1. आर्ट्स में कौन कौन सी नौकरी लग सकती है?
  2. भारत में किए जाने वाले सबसे बेहतरीन नर्सिंग कोर्सेज
  3. 12th Commerce के बाद कौन सा कोर्स करे 
  4. 12th के बाद क्या करे साइंस स्टूडेंट 
  5. भारत में किये जाने वाले सबसे बेहतरीन कम्प्यूटर
Sharing Is Caring:

3 thoughts on “पाइथन क्या है | What is Python Language in Hindi”

  1. Good, very nice for providing such information. According to your information, I understood a lot about Python Developer.

    Reply

Leave a comment